हाथ और पैर में झुनझुनी - Home Remedies for Numb Hands and Feet In Hindi

हाथ और पैर में झुनझुनी – Home Remedies for Numb Hands and Feet In Hindi

शरीर का कोई अंग यदि किसी दबाव में ज्यादा समय तक रहता है,तो वह सुन्न हो जाता है.वस्तुतः यह दबाव हाथ या पैर की नसों पर पड़ता है, ये नसें कई एक कोशीय फाइबर से बनी होती है. प्रत्येक एक कोशीय फाइबर अलग-अलग संवेदनाओं को मस्तिष्क तक पहुँचाने का कार्य करता है.इन फाइबरों की मोटाई …

हाथ और पैर में झुनझुनी – Home Remedies for Numb Hands and Feet In Hindi Read More »

वास्तु दोष निवारण के उपाय - Vastu Dosh Nivaran ke Upay in Hindi

वास्तु दोष निवारण के उपाय – Vastu Dosh Nivaran ke Upay in Hindi

अपना मकान बनाते समय भूल या परिस्थितिवश कुछ वास्तुदोष रह जाते हैं। इन दोषों के निवारण के लिए यदि आप बताए जा रहे उपाय कर लें, तो बिना तोड़-फोड़ के ही वास्तुजनित दोषों से निजात पा सकते हैं। यदि आपके मकान के सामने किसी प्रकार का वेध यानी खंभा, बड़ा पेड़ या बहुमंजिला इमारत हो …

वास्तु दोष निवारण के उपाय – Vastu Dosh Nivaran ke Upay in Hindi Read More »

वास्तु के अनुसार घर,मकान के वास्तु टिप्स - Vastu Shastra Tips for House in hindi

वास्तु के अनुसार घर,मकान के वास्तु टिप्स – Vastu Shastra Tips for House in hindi

यदि वास्तु को ध्यान में रखकर घर का निर्माण किया जाए तो वास्तुदोषों के दुष्परिणामों से बचा जा सकता है। वर्तमान के बदलते दौर में वास्तु का महत्व दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। आजकल कई बड़े-बड़े बिल्डर व इंटीरियर डेकोरेटर भी घर बनाते व सजाते समय वास्तु का विशेष ध्यान रखते हैं। वास्तु के अनुसार …

वास्तु के अनुसार घर,मकान के वास्तु टिप्स – Vastu Shastra Tips for House in hindi Read More »

दैनिक जीवन में वास्तु के उपयोगी नियम - Vastu Tips to Increase Happiness in Life

दैनिक जीवन में वास्तु के उपयोगी नियम – Vastu Tips to Increase Happiness in Life

जीवन में खुशियां चाहिए तो अपनाएं ये वास्‍तु टिप्‍स,दैनिक जीवन में वास्तु के उपयोगी नियम, वास्तु जीवन का ऐसा विज्ञान है जो इस बात पर जोर देता है कि घर-परिवार कैसे सुखी, स्वस्थ और खुशहाल हों। यह प्रकृति की ऊर्जा, संसाधन और परिवार की ऊर्जा के सही व संतुलित उपयोग के गुर सिखाता है। जो …

दैनिक जीवन में वास्तु के उपयोगी नियम – Vastu Tips to Increase Happiness in Life Read More »

किचन के टिप्स - Useful Kitchen Tips in Hindi

किचन के टिप्स – Useful Kitchen Tips in Hindi

रसोई में अपनाये ये टिप्स जो आपका काम कर देंगे बिलकुल आसान आमतौर पर रसोई में छोटी छोटी समस्याएं आती रहती हैं,जो ग्रहणियों के लिए सर दर्द बन जाती हैं|यहाँ दिये कुछ टिप्स आपका काम आसान कर देंगे और आपका काम सुविधाजनक हो जायेगा| यदि पहले कि पकी हुई सब्जियां या गुंधा आटा फ्रिज में …

किचन के टिप्स – Useful Kitchen Tips in Hindi Read More »

खाना खाने के नियम,The Best Times to Eat in Hindi, खाना खाते समय अपनाएं ये नियम, कभी नहीं पड़ेंगे बीमार आयुर्वेद में आहार और भोजन के संबंध में कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने पर बीमारियों से तो बचाव होता ही है, हेल्थ भी अच्छी रहती है और लंबी उम्र मिलती है। इन नियमों में खाने के समय से लेकर मात्रा और प्रकार के बारे में भी बताया गया है। जानिए ऐसे ही नियमों के बारे में खाना खाने के नियम,The Best Times to Eat in Hindi, सुबह का नाश्ता हैवी ले, लंच उससे 30% कम और डिनर लंच से 30% कम ले। विपरीत गुण वाले फूड को एक साथ न खाए जैसे दूध के साथ दही, इससे नुकशान हो सकता है। खाना हमेसा बैठकर ही खाए खड़े होकर या चलते चलते खाने से कई तरह की बीमारियाँ हो सकती है। बगैर भूख के भोजन न करे. इससे खाना डाइजेस्टनहीं होता ओर गैस,बदहजमी जैसी प्रॉब्लम हो सकतीहै पहले खाया हुआ पचने के बाद ही दूसरी बार खाए. खाने के बीच 4-5 घंटे का अंतर होना चाहिए जल्दी जल्दी न खाए, खाना अच्छे से चबाकर खाए. इससे लार अच्छी बनती है ओर खाना जल्दी पचता है खाते समय हँसना, बात करना नुकसानदायक हो सकता है. खाना गले या साँस की नली में फंस सकता है भूख से थोडा कम खाए. पेट में 20% जगह खाली रखे। खाने के समय नेगेटिव इमोशन्स न रखे. शांत और प्रसन्न मन से भोजन करे। हमेशा गर्म ओर ताजा खाना ही खाए. इससे खाना अच्छे से डाइजेस्ट होता है खाने में ठोस (सॉलिड) और तरल (लिक्विड) का अनुपात 70:30 का रखे लंच के बाद 10-15 मिनट रेस्ट करे (सोए नहीं). डिनर के कुछ देर बाद 10-15 मिनट जरुर टहलें। डिनर के 3-4 घंटे बाद ही सोएं. इससे पहले सोने से खाना अच्छे से डाइजेस्ट नहीं होता। खाना खाने के करीब 1 घंटे तक पानी न पिएं. इससे डाइजेशन अच्छा होता है। खाने में चिकनाई की मात्रा प्रर्याप्त मात्रा में होनी चाहिए ताकि वह आंतों में अच्छी तरह सरक सके। खाना खाने वाली जगह साफ़ सुथरी और शांत होना चाहिए. गंदगी ओर शोर शराबे वाली जगह में ना खाए आयु ओर प्रकृति के अनुसार ही भोजन करना चाहिए. 40-45 की उम्र के बाद हल्का खाना ही खाएं। खाने में कार्बोहाईड्रेटस, प्रोटीन ओर फाइबर का बैलेंस होना चाहिए. साबुत अनाज, सब्जियां, दाले फलियां फ्रूट्स, घी, दही वगेरह शामिल हो। नहाने के तुरंत बाद ना खाए ओर न ही खाने के तुरंत बाद नहाए। खाना खाने से पहले अच्छी तरह हाथ पैर धो लें. गंदे हाथो से, गंदे बर्तन में या गंदगी में बना हुआ खाना न खाए।

खाना खाने के नियम – The Best Times to Eat in Hindi

खाना खाते समय अपनाएं ये नियम, कभी नहीं पड़ेंगे बीमार आयुर्वेद में आहार और भोजन के संबंध में कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने पर बीमारियों से तो बचाव होता ही है, हेल्थ भी अच्छी रहती है और लंबी उम्र मिलती है। इन नियमों में खाने के समय से लेकर मात्रा …

खाना खाने के नियम – The Best Times to Eat in Hindi Read More »

पपीते के पत्ते का रस - Health Benefits of Papaya Leaf Juice in Hindi

पपीते के पत्ते का रस – Health Benefits of Papaya Leaf Juice in Hindi

वरदान है पपीते के पत्ते का रस क्योंकि इसमे है 5 विटामिन का भरपूर मिश्रण | पपीते के पत्ते खाने में कड़वे लगते हैं लेकिन उनमें कमाल के गुण छुपे हुए होते हैं. पपीते के पत्तों में विटामिन ”ए’,”बी’,”सी’,”डी’ और ”ई’ पाया जाता है साथ ही इसमें कैल्शियम भी पाया जाता है. पपीता एक ऐसा …

पपीते के पत्ते का रस – Health Benefits of Papaya Leaf Juice in Hindi Read More »

होंठ फटना - Cracked Lips Treatment in Hindi

होंठ फटना – Cracked Lips Treatment in Hindi

सर्दियों का मौसम आते ही जहां पूरा शरीर शुष्क होने लगता है वहीं होंठों के फटने की समस्या भी हो जाती है. ये एक बेहद आम परेशानी है. ये तो आप भी जानते होंगे कि हमारे होंठों की त्वचा, शरीर के किसी भी दूसरे भाग की तुलना में कहीं अधिक पतली और संवेदनशील होती है. …

होंठ फटना – Cracked Lips Treatment in Hindi Read More »

कब्ज का इलाज - Constipation Tips in Hindi

कब्ज का इलाज – Constipation Tips in Hindi

कब्ज आज के समय का एक साधारण रोग है। आज बहुत से लोग कब्ज रोग से परेशान रहते हैं। कब्ज रोग व्यक्ति के स्वयं के खान-पान में असावधानी रखने का ही परिणाम है। कब्ज उत्पन्न होने का मुख्य कारण अधिक मिर्च-मसाले वाला भोजन करना, कब्ज बनाने वाले पदार्थों का सेवन करना, भोजन करने के बाद …

कब्ज का इलाज – Constipation Tips in Hindi Read More »

गोखरू के गुण - Gokhru Health Benefits

गोखरू के गुण – Gokhru Health Benefits

किड्नी के लिए राम बाण  औषधि है गोखरू | बंद किड्नी को चालू करता है| किड्नी मे स्टोन को टुकड़े टुकड़े करके पेशाब के रास्ते बाहर निकल देता है| क्रिएटिन ,यूरिया को तेजी  से  नीचे लाता है ,पेशाब मे जलन हो पेशाब ना होती है ,इसके लिए भी यह काम करता है इसके बारे मे …

गोखरू के गुण – Gokhru Health Benefits Read More »