पैर के मोच को कैसे ठीक करे – Home Remedies for a Sprained Ankle in Hindi

पैर के मोच को कैसे ठीक करे - Home Remedies for a Sprained Ankle in Hindi

पैरों में मोच या फिर खिंचाव आने पर काफी सूजन और दर्द पैदा हो जाता है। यह कभी भी हो सकता है, चाहे आप खेल-कूद में लीन हो या फिर चलते चलते पैर मुड़ जाए। कई बार काम करते समय, खेलते कूदते सीढ़ी चढ़ते हमें यह मालूम ही नहीं हो पाता कि हमारे हाथ-पाँव या कमर में मोच लग गई है, लेकिन कुछ समय बाद उस जगह दुःखने पर हमें यह पता लगता है। मोच आने पर उस अंग पर सूजन आ जाती है और काफी दर्द होने लगता है , अगर आपको असहनीय दर्द या ज्यादा परेशानी है तो आप तुरंत डॉक्टर को दिखाएँ ,लेकिन यदि मोच छोटी है तो आप उस का घरेलू उपचार भी कर सकते है ।

मोच, चोट और सूजन के कारण

  • मोच व चोट लगने का सबसे पहला कारण हमारी असावधानी हो सकती हैं. जैसे कई बार हम इतनी जल्दबाजी में होते हैं की हम सडक को पार करते हुए ध्यान ही नहीं देते और किसी दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं
  • अधिक शारीरिक व्यायाम करने के कारण भी कई बार हमारे शरीर में मोच या अंदरूनी चोट लग जाती हैं. जिसका पता हमें व्यायाम करते समय नहीं चलता क्यूंकि व्यायाम करने से हमारे शरीर गरम हो जाता हैं.
  • बच्चों को अधिक चोट या मोच खेलते समय लगती हैं. 
  • अधिक तेजी से वाहन चलाने की वजह से भी कई बार लोगों को  चोट लग जाती हैं.

मोच, चोट और सूजन के लक्षण

  • चोट या मोच लगने पर जिस भाग में चोट लगी हैं. वहां पर सूजन आ जाना.
  • चोट एवं मोच वाले स्थान में दर्द होना. 
  • चोट या मोच आने पर जिस भाग में चोट लगी हैं उसके आस – पास जलन होना.
  • चोट व मोच से प्रभावित त्वचा का लाला हो जाना.
  • अधिक चोट लगने पर खून बहना.
  • मोच आने पर त्वचा का रंग नीला हो जाना

मोच, चोट और सूजन के लिए घरेलू उपाय,पैर के मोच को कैसे ठीक करे

  • आक के पत्तों को गरम करके बाँधने से चोट अच्छी हो जाती है। सूजन दूर हो जाती है।
  • चोट के कारण कटे हुए स्थान पर पिसी हुई हल्दी भर देने से खून का बहना बंद हो जाता है तथा हल्दी कीटाणुनाशक भी होती है।
  • चोट व मोच के दर्द से राहत पाने के लिए तुलसी के पत्तों का उपयोग करना बहुत ही उपयोगी होता हैं. चोट व मोच को ठीक करने के लिए तुलसी के पत्ते लें और उसे पीस लें. अब इन पत्तियों के लेप को अपनी चोट व मोच पर लगा लें. इस लेप का प्रयोग करने से घाव जल्दी ही ठीक हो जाएगा तथा मोच भी ठीक हो जाएगी.
  • 2 कली लहसुन, 10 ग्राम शहद, 1 ग्राम लाख एवं 2 ग्राम मिश्री इन सबको चटनी जैसा पीसकर, घी डालकर देने से टूटी हुई अथवा उतरी हुई हड्डी जल्दी जुड़ जाती है।
  • लकड़ी-पत्थर आदि लगने से आयी सूजन पर हल्दी एवं खाने का चूना एक साथ पीसकर गर्म लेप करने से अथवा इमली के पत्तों को उबालकर बाँधने से सूजन उतर जाती है।
  • यदि आप के पैर में मोच आ गई है तो आप तेजपात को पीसकर मोच वाले स्थान पर लगायें ।
  • मोच अथवा चोट के कारण खून जम जाने एवं गाँठ पड़ जाने पर बड़ के कोमल पत्तों पर शहद लगाकर बाँधने से लाभ होता है।
  • अगर आपके पैर या हाथ में मोच आ गई है तो बिना देर किए थोडा सा बर्फ एक कपड़े में रखकर सूजन वाले जगह पर लगायें इससे सूजन कम हो जाता है। बर्फ लगाने से सूजन वाले जगह पर रक्त का संचालन अच्छी तरह से होने लगता है जिससे दर्द धीरे-धीरे कम होने लगता है।
  • हल्दी और सरसों के तेल को मिला लें और इसे हल्की आंच में गर्म करके फिर इसे मोच वाली जगह पर लगाएं और किसी कपड़े से इसे ढक दें।
  • अरनी के उबाले हुए पत्तों को किसी भी प्रकार की सूजन पर बाँधने से तथा 1 ग्राम हाथ की पीसी हुई हल्दी को सुबह पानी के साथ लेने से सूजन दूर होती
  • पका हुआ लहसुन और अजवायन को सरसों के तेल में मिलाकर गर्म करें। और फिर इस तेल की मालिश मोच वाले हिस्से पर करें। आपको राहत मिलेगी।
  • महुआ और तिल को कपड़े में बांध कर लगाने से हड्डी की मोच ठीक हो सकती है।
  • 1 से 3 ग्राम हल्दी और शक्कर फाँकने और नारियल का पानी पीने से तथा खाने का चूना एवं पुराना गुड़ पीसकर एकरस करके लगाने से भीतरी चोट में तुरंत लाभ होता है|
  • एलोवेरा के गूदे को सूजन और मोच वाली जगह पर लगाने से आराम मिलता है।
  • इमली की पत्तियों को पीसें और इसे आग में थोड़ा गुनगुना करें। और इसे मोच वाली जगह पर लगाने से दर्द से तुरंत राहत मिलती है।
  • ढ़ाक के गोंद को पानी में मिलाकर उसका लेप करने से चोट में सूजन सही हो जाती है ।
  • मोच को ठीक करने का एक और कारगर उपाय यह है कि आप अनार के पत्ते पीसकर मोच वाली जगह पर मलें।
  • चोट किसी भी स्थान पर लगी हो तो आप कपूर और घी की बराबर मात्रा में मिलाकर चोट वाले स्थान पर कपडे से बांधे एैसा करने से चोट का दर्द कम हो जाता है तथा रक्त बहना भी बंद हो जाता है।
  • सरसों के तेल में नमक को मिला लें और इसे गर्म करके मोच वाली जगह पर लगाएं। एैसा करने मोच में राहत मिलती है।
  • हाथ पैरों की ऐठन और पैर की मोच पर अखरोट का तेल लगाने से दर्द से राहत मिलती है।
  • चूने को शहद के साथ मिला लें और इससे मोच वाली जगह पर आराम से मालिश करें। इस उपाय से भी मोच में बहुत राहत मिलती है।
  • मोच को ठीक करने के लिए सरसों के तेल का प्रयोग करना बहुत ही लाभकारी सिद्ध होता हैं. मोच से जल्दी राहत पाने के लिए सरसों के तेल को मोच वाले स्थान पर लगा लें और इस पर हल्दी का पाउडर छिडक लें. हल्दी को छिडकने के बाद मोच को तौलिए से ढक दें. अब एक पोटली लें और उसमे नमक डाल लें और इसे बांध लें. अब इस पोटली को तवे पर गर्म करके तौलिए के उपर से गर्माहट सहन करने लायक सिकाई कर लें. आपकी मोच ठीक हो जाएगी.

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.